Monday 1st of March 2021 9:27 AM
दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा का निधन, कल मनाया था जन्मदिन बिहार में कहीं भी पलट सकते हैं नतीजे, 99 सीटों पर अंतर 2000 से कम बिहार चुनावः पूर्व सीएम राबड़ी देवी बोलीं- हर जगह महागठबंधन को मिल रही जीत, लोग दे रहे रिपोर्ट NEET Result 2020: नीट परीक्षा का र‍िजल्ट जारी NEET Result: रिजल्ट थोड़ी देर में EC ने UP और उत्तराखंड की 11 राज्यसभा सीटों पर चुनाव का किया ऐलान महाराष्ट्र: राज्यपाल के सवाल पर CM उद्धव बोले- मुझे आपसे हिंदुत्व पर सर्टिफिकेट लेने की जरूरत नहीं यूपीः पूर्व मंत्री आजम खान को राहत, इलाहाबाद हाईकोर्ट से 2 मामलों में मिली जमानत भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजादः पीड़ित परिवार को Y श्रेणी की सुरक्षा दी जाए भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ सपा का सत्याग्रह

5 साल में देश के 7 प्रमुख क्षेत्रों में 3.64 करोड़ लोग बेरोजगार, 7.1% बेरोजगारी दर

बजट में अर्थव्यवस्था की सुस्ती दूर करने और नौकरियां बढ़ाने के लिए सरकार क्या प्रयास करती है, इसपर सबकी निगाहें हैं। इस बीच हाल ही में आई रिपोर्ट के मुताबिक देश में बेरोजगारी दर 7.1 फीसदी के ऊंचे स्तर पर पहुंच गई है। ऐसे में भास्कर ने अलग-अलग सेक्टर के विशेषज्ञों, इंडस्ट्री बॉडी और सरकारी रिपोर्ट्स के माध्यम से जाना कि देश में नौकरियों की क्या स्थिति है।

रिसर्च में सामने आया कि देश में बीते पांच सालों में 3.64 करोड़ नौकरियां सिर्फ 7 प्रमुख सेक्टर्स में ही जा चुकी हैं। इनमें प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार शामिल हैं। सर्वाधिक 3.5 करोड़ नौकरियां टेक्सटाइल सेक्टर की हैं। हालांकि अच्छी बात यह है कि सरकारी प्रयास और जीडीपी ग्रोथ की उम्मीद के बीच करीब 5.3 करोड़ से अधिक नई नौकरियां अगले पांच साल में आएंगी।

क्लोदिंग मैन्यूफैक्चरर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के मुख्य संरक्षक राहुल मेहता बताते हैं कि टेक्सटाइल सेक्टर में अलग-अलग कारणों से पिछले पांच सालों में करीब 3.5 करोड़ लोग बेरोजगार हुए हैं। हालांकि अब स्थितियां सुधर रही हैं और अगले 5 सालों में इतने ही नए रोजगार आ जाएंगे। वहीं नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार कहते हैं कि देश में जॉब लॉस जैसी बात नहीं है। नए जॉब ग्रोथ की रफ्तार थोड़ी धीमी अवश्य हुई है। केंद्र सरकार ने इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च बढ़ाया है।  निवेश भी बढ़ेगा। इससे जॉब आएंगे।
देश की प्रमुख जॉब मुहैया करवाने वाली कंपनी टीमलीज की को-फाउंडर ऋतुपर्णा चक्रवर्ती ने कहा कि देश में टेलीकॉम, ऑटो, मोबाइल, इंफ्रा, जेम्स एंड ज्वैलरी और कंस्ट्रक्शन क्षेत्र में अवश्य नौकरियां घटी हैं लेकिन यह कितनी घटी हैं कह पाना मुश्किल है। मारुति सुजुकी इंडिया के चेयरमैन आरसी भार्गव कहते हैं कि नौकरी चक्रीय होती है। जैसे- एक कार बिकती है तो कार ड्राइवर, पेट्रोल वाले, स्पेयर पार्ट्स, इश्योरेंस आदि से करीब 5 लोगों को रोजगार मिलता है। हम प्रतिवर्ष 15-16 लाख कार बनाते हैं। उम्मीद है रोजगार बढ़ेगा।

SOURCE LINK
किसानों और नोएडा प्राधिकरण के बीच झरप
January 26, 2020
ये 5 आदतें समय से पहले बूढ़ा बनाती हैं, सावधान रहें
January 26, 2020
गाजियाबाद : नगर निगम की बड़ी कार्रवाई,शिप्रा मॉल और ओमेक्स प्लाजा सील किए, करोडों रुपये Property Tax बकाया
January 26, 2020
जेल से रिहा पत्रकार मनदीप पुनिया ने सुनाई आपबीती, शरीर पर लिख लाये जेल में बंद किसानों के बयान
January 26, 2020
नोएडा :अब आप ओखला पक्षी विहार में मीटिंग कर सकते हैं, स्वादिष्ट भोजन का आनंद ले सकते हैं, ये सुविधाएं आज से शुरू हो गई हैं
January 26, 2020
गाजीपुर बॉर्डर पर लगातार समाजवादियों का समर्थन
January 26, 2020
समजवादी पार्टी के भावी प्रत्याशी भीष्म यादव उर्फ टीटू यादव ने युवाओं को किया प्रेरित, बोले – देश को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी उनके कंधों पर
January 26, 2020
किसानों के समर्थन में समाजवादी पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओ ने निकाली ट्रैक्टर रैली
January 26, 2020
राजधानी में अतिरिक्त अर्धसैनिक बलों की तैनाती
January 26, 2020
नोएडा: सेक्टर -71 में रविवार को हुए आरडब्ल्यूए चुनाव में सर्वसम्मति से एक नई समिति का गठन किया गया।
January 26, 2020
नॉएडा : सपा के पार्टी कार्यालय पहुंचे लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष राम करन निर्मल
January 26, 2020
समाजवादी पार्टी के नोएडा महानगर में कुंवर बिलाल बर्नी को पार्टी में मिली बड़ी जिम्मेदारी
January 26, 2020