Monday 3rd of August 2020 10:02 AM

5 कारण क्यों देसी घी भारतीय लोगों के लिए सबसे महत्वपूर्ण सुपरफूड है

भारतीय घरों में खाने के साथ देसी घी का रिश्ता बहुत पुराना है। ढेर सारे पोषक तत्वों के कारण देसी घी को भारत का सुपफूड माना जाता है। हालांकि आजकल नई उम्र के लड़के-लड़कियां घी से ज्यादा मक्खन (Butter) खाना पसंद करते हैं। पश्चिमी खानपान में भले ही देसी घी को उतना महत्व न दिया जाए, मगर भारतीय खानपान और भूगोल के कारण भारत के लोगों के लिए देसी घी का सेवन बहुत जरूरी है। दरअसल भारतीय लोगों में ऐसी कई समस्याएं पाई जाती हैं, जिनसे देसी घी बचाता है और शरीर को स्वस्थ रखता है। आइए आपको बताते हैं भारतीय लोगों के लिए क्यों जरूरी है देसी घी का सेवन।

बटर का सबसे हेल्दी विकल्प है घी

देसी घी, मक्खन यानी बटर का सबसे अच्छा हेल्दी विकल्प है। ये बात National Center for Biotechnology Information द्वारा 2016 में छापी गई एक स्टडी में कही गई है। इस रिसर्च में बताया गया है कि देसी घी में मक्खन के मुकाबले विटामिन्स, एंटीऑक्सीडेंट्स, ओमेगा 3 एसिड और कॉन्जुगेटेड आइनोलेइक एसिड आदि अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। जिसके कारण ये दिमाग के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

भारी खाने के पचाने में करता है मदद

भारतीयों का खानपान पश्चिमी देशों की अपेक्षा ज्यादा गरिष्ठ (भारी) होता है। हमारे यहां आमतौर पर गेंहूं के आटे और चावल का सेवन किया जाता है। इसके अलावा भारतीय खाना बहुत अधिक तेल-मसालों से युक्त होता है, जिसके कारण इसे पचाना आसान नहीं होता है। ऐसे में अगर आप अपने खाने में देसी घी का प्रयोग करते हैं, तो खाने को पचाना आपके लिए आसान होता है। देसी घी पाचनतंत्र को स्वस्थ रखता है और पेट की समस्याएं दूर करता है। रोटी में घी लगाकर खाने, दाल में घी डालकर खाने और सोने से पहले एक ग्लास दूध में 2 चम्मच देसी घी डालकर पीने आप जिंदगी भर स्वस्थ रह रहेंगे।

खून की कमी दूर करे देसी घी

भारतीय महिलाओं में खून की कमी (एनीमिया) एक बड़ी समस्या है। 90% से ज्यादा भारतीय महिलाओं और 65% से ज्यादा भारतीय पुरुषों में खून की कमी पाई जाती है। देसी घी में कॉपर और आयरन अच्छी मात्रा में होते हैं। इसलिए ये शरीर में खून की कमी दूर करता है और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है, जिससे शरीर बुढ़ापे तक स्वस्थ रहता है और कई तरह के रोगों से बचा रहता है।

आंखों की रोशनी बढ़ाए देसी घी

भारत में 55-60 की उम्र के बाद मोतियाबिंद की समस्या बहुत आम है, यानी लोगों की नजरें इस उम्र तक कमजोर हो जाती हैं। देसी घी में विटामिन ई, विटामिन डी, विटामिन ए और विटामिन के पाया जाता है। इसके अलावा इसमें ‘कैरोटेनॉइड्स’ नाम का तत्व पाया जाता है, जो आंखों की रोशनी बढ़ाने में मददगार होता है। पुराने लोग जो बचपन से ही शुद्ध देसी घी खाते थे, उनकी आंखें लंबी उम्र तक उनका साथ निभाती थीं। घी आंखों के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

हड्डियों की कमजोरी दूर करता है

आजकल भारतीय लोगों में कैल्शियम और विटामिन डी की कमी होने के कारण हड्डियां जल्दी कमजोर हो जाती हैं, जिसके कारण हड्डी फ्रैक्चर होने, ऑस्टियोपोरिसिस, गठिया, अर्थराइटिस जैसी समस्याएं बहुत अधिक बढ़ गई हैं। 1 चम्मच देसी घी में 115 कैलोरीज होती हैं। जबकि इसमें 14.9 ग्राम हेल्दी फैट होता है। इसके अलावा घी में कैल्शियम भी अच्छी मात्रा में पाया जाता है, जिसके कारण ये हड्डियों को मजबूत बनाता है।

SOURCE LINK
सपा युथ ब्रिगेड ने सरकारी हॉस्पिटल मैं 2000 सिरिंज और 1000 मास्क डोनेट किए
January 22, 2020
राजस्थान में राजनीतिक उथल-पुथल के बीच सचिन पायलट अपने विधायकों के साथ दिल्ली पहुंचे
January 22, 2020
अनुपम खेर के परिवार को भी कोरोना, मां और भाई समेत 4 लोग पॉजिटिव
January 22, 2020
सपा प्रमुख अखिलेश यादव का जन्मदिन जन्मदिन समाजवादियों ने अपने ढंग से मनाया
January 22, 2020
पैट्रोल एवं डीज़ल के मूल्यों में हो रही बेताहास वृद्धि के विरोध में समाजवादी कार्यकर्ताओं ने सरकार की जनविरोधी नीतियों का विरोध किया
January 22, 2020
नोएडा में सामने आई प्रशासन की बड़ी चूक
January 22, 2020
युवाओं के हितों को लेकर सड़क पर आई समाजवादी छात्रसभा, कई कार्यकर्ता किए गए गिरफ्तार
January 22, 2020
शिवपाल यादव ने कार्यकर्ताओं को एक पत्र लिखा, लेकिन पत्र के रंग ने राजनीतिक चर्चा को तेज कर दिया
January 22, 2020
लॉकडाउन के दौरान जमा नहीं हुआ बिजली बिल, अब डिस्कनेक्शन का नोटिस भेजकर हो रही है वसूली
January 22, 2020
जैतपुर महोबा : कैंसर पीड़ित बेटी के लिए दर दर भटक रहा है पिता शासन प्रशासन से नही मिल रही है मदद
January 22, 2020
अखिलेश यादव एक्शन में हैं, अब इन तीन नेताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया
January 22, 2020
कानपुरः सरकारी आश्रय गृह में 33 कोरोना सकारात्मक लड़कियों में से 2 गर्भवती, हड़कंप मच गई
January 22, 2020