Saturday 16th of October 2021 9:09 PM
दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा का निधन, कल मनाया था जन्मदिन बिहार में कहीं भी पलट सकते हैं नतीजे, 99 सीटों पर अंतर 2000 से कम बिहार चुनावः पूर्व सीएम राबड़ी देवी बोलीं- हर जगह महागठबंधन को मिल रही जीत, लोग दे रहे रिपोर्ट NEET Result 2020: नीट परीक्षा का र‍िजल्ट जारी NEET Result: रिजल्ट थोड़ी देर में EC ने UP और उत्तराखंड की 11 राज्यसभा सीटों पर चुनाव का किया ऐलान महाराष्ट्र: राज्यपाल के सवाल पर CM उद्धव बोले- मुझे आपसे हिंदुत्व पर सर्टिफिकेट लेने की जरूरत नहीं यूपीः पूर्व मंत्री आजम खान को राहत, इलाहाबाद हाईकोर्ट से 2 मामलों में मिली जमानत भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजादः पीड़ित परिवार को Y श्रेणी की सुरक्षा दी जाए भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ सपा का सत्याग्रह

‘मार डालो गाड़ दो… हम डरते नहीं’ – प्रियंका के साथ पुलिस फोर्स पर बोले राहुल

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बुधवार को उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी का दौरा करने का ऐलान किया है. इससे पहले उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें उन्होंने सरकार पर हमला बोलते हुए सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि भारत सरकार व्यवस्थित तरीके से किसानों पर हमले कर रही है.व्यवस्थित तरीके से उनसे छीने जा रहे किसानों को सबके सामने लूटा जा रहा है. राहुल ने कहा कि सरकार पिछले कुछ समय से भारत के किसानों पर हमले कर रही है। किसानों को जीप के नीचे कुचला जा रहा है, उनकी हत्या की जा रही है।

राज्य के गृह मंत्री की बात हो रही है, उनके बेटे की बात हो रही है. इस सरकार में पोस्टमॉर्टम ठीक से नहीं हो रहा है। जो बोल रहा है उसे बंद किया जा रहा है। प्रियंका गांधी के साथ पुलिस की जबरदस्ती पर राहुल द्वारा पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि ‘हम हाथापाई से नहीं डरते, हम सालों से प्रशिक्षित हैं, हमारा परिवार सिखाता है.’

पीएम मोदी के लखनऊ दौरे पर सवाल उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ‘कल पीएम लखनऊ में थे, लखीमपुर खीरी क्यों नहीं जा पाए?’ अपने आज के दौरे की योजना पर राहुल ने कहा कि वह कांग्रेस के दो मुख्यमंत्रियों के साथ आज लखीमपुर जाने की कोशिश करेंगे. उन्होंने कहा कि चूंकि धारा 144 लगाई गई है, ऐसे में सिर्फ तीन लोग जाएंगे और इस बारे में पत्र लिखा जा चुका है. आपको बता दें कि यूपी सरकार ने राहुल गांधी को लखीमपुर जाने की इजाजत नहीं दी है.

राहुल ने कहा कि वह वहां जाकर स्थिति देखना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘विपक्ष का काम दबाव बनाना है, फिर कार्रवाई की जाती है। सरकार चाहती है कि हम दबाव न बनाएं और हत्यारे भाग जाएं। अगर हम हाथरस में भी आवाज नहीं उठाते तो ऐसा होता।

उन्होंने मीडिया पर सवाल उठाते हुए कहा कि ‘मीडिया सवाल नहीं उठाता, आप भूल गए हैं. और फिर तुम हमें बताओ।’

आपको बता दें कि राहुल से पहले प्रियंका गांधी हिंसा की अगली रात लखीमपुर खीरी जाने की कोशिश कर रही थीं, लेकिन सीतापुर में पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया. वह 48 घंटे से अधिक समय बाद भी पुलिस हिरासत में है। प्रियंका ने कहा है कि जो भी समय वहां रखा जाएगा वह वहीं रहेंगी, लेकिन वह किसानों से मिलने जरूर जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 बच्चों की मां ने शरीर पर बनवाए 17 लाख रुपये के टैटू!
October 6, 2021
यूपी में स्कूल खोलने के बदले नियम, समय बदलने के आदेश भी जारी
October 6, 2021
पुराने पैटर्न पर होगी नीट सुपर स्पेशियलिटी डीएम परीक्षा, अगले साल होगा बदलाव: सुप्रीम कोर्ट
October 6, 2021
चंद घंटों की बारिश में सड़कों पर जलजमाव, विकास प्राधिकरण का विकास पानी में डूबा
October 6, 2021
गौतमबुद्धनगर के डीएम सुहास एलवाई ने जीता सेमीफाइनल, कल होगा फाइनल मैच
October 6, 2021
किसानों पर लाठीचार्ज सरकार की नाकामी: गौरव यादव
October 6, 2021
आम आदमी पार्टी 1 सितंबर को नोएडा में 'तिरंगा यात्रा' निकालेगी
October 6, 2021
बारिश ने खोले नोएडा व ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पोल, शहर की सड़कें, गांव व सेक्टर तालाब में तब्दील
October 6, 2021
नॉएडा सैक्टर 55 RWA का चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हुआ
October 6, 2021
फोनेर्वा के लगातार दूसरी बार अध्यक्ष बने योगेंद्र शर्मा, एनपी सिंह हुए रिटायर
October 6, 2021
यूपी में बैठे हैं, भेज दो जेल, लखनऊ आए तो जाएंगे जेल, बयान पर बीकेयू नेता राकेश टिकैत का पलटवार
October 6, 2021
प्रभारी विजय यादव के नेतृत्व में लोहिया वाहिनी की समीक्षा बैठक हुई : बब्बू यादव
October 6, 2021